OnePlus Nord और OnePlus 7 सीरीज़ को भारत में क्रमश: OxygenOS 10.5.8 और OxygenOS 10.3.5 अपडेट प्राप्त हुआ है, जिसके साथ दोनों ही फोन को सितंबर सिक्योरिटी पैच मिला है। स्मार्टफोन के लिए ज़ारी अपडेट की जानकारी OnePlus फोरम के द्वारा दी गई है। वनप्लस नॉर्ड स्मार्टफोन को इस अपडेट में थोड़े ज्यादा ऑप्टिमाइज़ेशन प्राप्त हुए हैं, जबकि वनप्लस 7 सीरीज़ जिसमें OnePlus 7 और OnePlus 7 Pro स्मार्टफोन शामिल है उन्हें कुछ ही सिस्टम इम्प्रूवमेंट्स मिले हैं। ओवर-द-एयर अपडेट को वनप्लस नॉर्ड और वनप्लस 7 सीरीज़ के लिए स्टेज्ड मैनर में रोलआउट किया गया है।
 

OnePlus Nord OxygenOS 10.5.8 update

वनप्लस फोरम पोस्ट के अनुसार, OnePlus Nord का अपडेट भारत में 10.5.8.AC01DA वर्ज़न के साथ आया है। यह अपडेट कुछ सिस्टम सुधार, कैमरा व डिस्प्ले बदलाव और नेटवर्क सुधार से लैस है। वनप्लस नॉर्ड को ‘Hide silent notifications in status bar’ फीचर प्राप्त हुआ है, जो कि गैर-जरूरी नोटिफिकेशन को फिल्टर करता है। इस फीचर को इनेबल करने के लिए वनप्लस नॉर्ड यूज़र्स सेटिंग्स में जाकर Apps & Notifications पर क्लिक करें, फिर उन्हें Notifications में जाकर Advanced पर क्लिक करना होगा। इसके बाद वह हाइड साइलेंट नोटिफिकेशन फीचर को इनेबल कर सकते हैं।

एक्सपेंड स्क्रीनशॉट फीचर को ऑप्टिमाइज़ किया गया है और कुछ जानी-मानी समस्याओं को भी फिक्स किया गया है। वनप्लस का कहना है कि इमेज स्टेब्लाइज़ेशन परफॉर्मेंस को भी ऑप्टिमाइज़ कर दिया गया है। वहीं, जनरल डिस्प्ले कैलिब्रैशन में सुधार कर दिया गया है। इसके साथ ही नेटवर्क स्टेब्लिटी को ऑप्टिमाइज़ किया गया है। इन सब अपडेट के साथ वनप्लस नॉर्ड को सितंबर 2020 सिक्योरिटी पैच भी प्राप्त हुआ है।
 

OnePlus 7 series OxygenOS 10.3.5 update

वनप्लस 7 सीरीज़ के लिए यह अपडेट यूज़र असिस्टेंट फीचर लेकर आया है। इसको एक्सेस करने के लिए सेटिंग्स में जाकर OnePlus Tips & Support पर क्लिक करना होगा। OnePlus 7 Pro को ऑप्टिमाइज़ पावर कन्सम्प्शन के साथ इम्प्रूव यूज़र एक्सपीरियंस प्राप्त हुआ है। इसके अलावा थर्ड पार्टी ऐप के साथ आने वाली फ्लैशबैक समस्या को भी इस अपडेट में फिक्स कर दिया गया है। OnePlus 7 और OnePlus 7 Pro को भी इस अपडेट के साथ सितंबर एंड्रॉयड सिक्योरिटी पैच प्राप्त हुआ है।

वनप्लस का कहना है कि इस अपडेट को स्टैज्ड मैनर में रोलआउट किया गया है, इसका मतलब यह है कि सभी यूज़र्स तक इस अपडेट को पहुंचने में थोड़ा समय लगेगा। जैसे कि यह सुनिश्चित हो जाएगा कि अपडेट में किसी प्रकार का गंभीर बग मौजूद नहीं है, वैसे ही इसे सभी यूज़र्स तक पहुंचा दिया जाएगा। यदि आपको अभी तक अपडेट का नोटिफिकेशन प्राप्त नहीं हुआ है, तो आप इस अपडेट की उपलब्धता मैनुअली भी चेक कर सकते हैं। इसके लिए आपको सेटिंग्स में जाकर सिस्टम अपडेट में जाना होगा।