दिल्ली सरकार ने आज लोगों को केंद्र शासित प्रदेश में कुल अस्पताल बेड और वेंटिलेटर की स्थिति का पता लगाने में मदद करने के लिए एक समर्पित मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। Delhi Corona नाम से लॉन्च किया गया यह ऐप फिलहाल एंड्रॉयड डिवाइस पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। यह COVID-19 उपचार के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं की खोज आसान बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक लाइवस्ट्रीम के जरिए दिल्ली कोरोना ऐप लॉन्च की घोषणा की। सीएम के अनुसार, ‘दिल्ली कोरोना’ ऐप का इस्तेमाल राजधानी शहर के सरकारी और निजी अस्पतालों दोनों द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं को खोजने के लिए किया जा सकता है।

अरविंद केजरीवाल ने लाइवस्ट्रीम के जरिए मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, “यह ऐप आपको बताएगा कि कितने अस्पताल के बिस्तर खाली हैं और इस समय कितने इस्तेमाल में हैं।”

दिल्ली कोरोना ऐप उन सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को लिस्ट करता है जो COVID-19 रोगियों का इलाज करते हैं। यह कुल बेड के साथ-साथ अस्पताल में इस्तेमाल हो रहे और खाली पड़े बेड के साथ-साथ वेंटिलेटर की संख्या की जानकारी भी साझा करता है, ताकि आपात स्थिति में लोगों की मदद की जा सके। ऐप हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं को भी सपोर्ट करता है।

यहां एक अच्छी बात यह भी है कि दिल्ली कोरोना ऐप से जानकारी प्राप्त करने के लिए यूज़र को किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होती है। ऐप डाउनलोड करने के लिए आपको बस अपने Android डिवाइस से Google Play पर जाना होगा। ऐप लोगों को सेल्फ असेस्मेंट टूल, दिशानिर्देश और महत्वपूर्ण हेल्पलाइन जैसी सुविधाएं भी देता है। इसमें राशन, ई-पास और भूख/आश्रय राहत केंद्र जैसी सेवाओं के लिंक भी शामिल हैं। इसके अलावा आप इसमें कंटेनमेंट ज़ोन की जानकारी भी देख सकते हैं और यहां तक कि दिल्ली सरकार की व्हाट्सऐप कोरोनावायरस हेल्पलाइन को सीधे दिल्ली कोरोना ऐप के जरिए एक्सेस कर सकते हैं।

MyGov साइट पर उपलब्ध आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 11,500 से अधिक सक्रिय मामलों और अब तक कम से कम 523 घातक मामलों के साथ, दिल्ली ने 20,000 कोरोनोवायरस मामलों की संख्या को पार कर लिया है।

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें